जीपीएसः अब झूठ नहीं बोले पाएंगे बेगम और बाॅस से

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

BDC news dask 10 जुलाई 2017
अब आप बोस और पत्नी को अपनी गलत लेक्शन नहीं बताएंगे.. क्योंकि उनका मुखबिर जो आपके साथ होगा। डीओटी मोबाइल कंपनियों को 2018 से ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम लगाना अनिवार्य कर दिया है, इससे पल भर में पता लग जाएगा आप कहां हैं जनाब।

डीओटी ने हैंडसेट मैन्युफैक्चरिंग इंडस्ट्री को निर्देश दिए हैं कि जीपीएस लगाएं। सरकार इसे महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने जोड़ रही है। टेलिकॉम डिपार्टमेंट ने इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन को 4 जुलाई को लिखी चिट्ठी में कहा था, फीचर फोन में जीपीएस फैसिलिटी के सिलिसिले में डीओटी ने कहा था कि इमर्जेंसी की हालत में फोन यूजर का पता लगाने के लिए जीपीएस मुख्य टूल है, लिहाजा सरकार ने 1 जनवरी 2018 से सभी मोबाइल हैंडसेट में इस नियम का लागू करने का फैसला किया है। इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन ज्यादातर हैंडसेट मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों की नुमाइंदगी करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *