सिंगारचोली पर नहीं लगता जाम, फाटक रोड पर जल्द बनेगा आरओबी

भोपाल। 17 नवंबर 2018

सिंगारचोली फाटक पर लगने वाली जाम की समस्या खत्म हो गई है। लाखों की आबादी इससे परेशान थी, पहले चरण का निर्माण पूरा होने के बाद चुनाव आचार संहिता लागू होने से बिना भूमिपूजन यह बड़ी सौगात लोगों को मिल गई है। आरओबी के दूसरे चरण का निर्माण भी शुरू हो गया है।
लालघाटी से गांधीनगर जाते हुए सालों से हर रोज हजारों वाहनों को सिंगार चोली फाटक पर ब्रेक लगाना पड़ता था। हजारों की आबादी इससे प्रभावित थी, मार्ग पर एक दर्जन से अधिक रहवासी इलाके हैं। सालों पुरानी इस समस्या का समाधान बिना भूमिपूजन के हुआ। नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) ने ब्रिज के निर्माण का पहला चरण पूरा कर दिया है। ब्रिज पर वाहनों की आवाजाही भी शुरू हो गई। सालों से अटके निर्माण कार्य को गति देने के लिए विधायक रामेश्वर शर्मा ने सड़क परिवहन मंत्री नीतिन गडकरी से कई बार मुलाकात की। सिंगारचोली पर ओवर बिज्र की मांग कांग्रेस सरकार के दौर से चल रही थी, लेकिन फाइलों आगे नहीं बढ़ सकीं। लेकिन अब ब्रिज निर्माण होने से हजारों की आबादी को बड़ी सुविधा मिल गई है।
संतनगर में आरओबी पर सैद्धांतिक मंजूरी
सिंगार चोली की तरह रेलवे फाटक पर जाम की समस्या संतनगर में फाटक रोड पर है, इस समस्या का समाधान जल्द होने वाला है, आरओबी को सैद्धांतिक मंजूरी मिल गई है। संतनगर के गांधीनगर जाते हुए ब्रिज पर जाम आम रहता है। आरओबी बनाने का वादा रेल मंत्री रहते हुए कांग्रेस शासन में माधवराव सिंधिया ने किया था। लेकिन वादा, वादा ही रही। रेलवे और सरकार के बीच सारी औपचारिकताएं पूरी हो गई हैं। जल्द ही इसका भूमिपूजन होगा।
लालघाटी पर बन रह सेपरेटर
लालघाटी चौराहा पर ग्रेड सेपरेटर बनाने और सड़क के चौड़ीकरण का काम भी नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने शुरू कर दिया है। लालघाटी चौराहे एक्सीडेंट जोन के रूप में जाना जाता है। चौराहे पर लगी पंडित दीनदयालजी की प्रतिमा शिफ्ट कर दी गई है। ग्रेड सेपरेटर बनने से एक्सीडेंट की आशंका खत्म हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *