सेवासदन में 1.29 लाख से अधिक नेत्र रोगियों की जांच एंव उपचार

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

 

– वर्ष 2017 में 14,790 रोगियों के नेत्र आपरेशन

हिरदाराम नगर। 10 jan 2018

सेवा सदन नेत्र चिकित्सालय में कैलेन्डर वर्ष 2017 में 1,29,349 बाह्य नेत्र रोगियों की आखों की जांच और उपचार किया गया। अस्पताल में नियंत्रण योग्य अंधत्व कार्यकम पर अमल करते हुए 14,790 रोगियों के मोतियाबिंद आपरेषन किये गये। इनमें से 9,405 रोगियों के निःशुुल्क तथा 5,385 रोगियों के सशुल्क नेत्र आपरेशन किये गये हैं। इस अस्पताल द्वारा ग्रामीण अचंलों में नियंत्रण योग्य अन्धत्व की रोकथाम हेतु संत हिरदाराम नगर के 150 कि. मी. चौतरफा स्थित नगरों और कस्बों मे आलोच्य अवधि में 235 निःशुल्क नेत्र जांच एवं उपचार शिविर लगाकर मोतियाबिंद रोगियों की पहचान कर उन्हंे सेवा सदन लाया गया तथा उनके मोतियाबिंद आपरेशन किये गए हैं।

मोतियाबिंद के अतिरिक्त सेवासदन द्वारा आलोच्य वर्ष में 117 दृष्टिबाधित व्यक्तियों के नेत्र प्रत्यारोपण कर उनकी आंखों को रोशनी प्रदान करने में सफलता हासिल की गई है। सेवा सदन अस्पताल द्वारा संचालित नेत्र दान अभियान के फलस्वरूप ही इतनी बडी संख्या में दृष्टिबाधित नेत्र रोगियों की मदद हो सकी है। आवश्यकता पड़ने पर हैदराबाद, भुवनेष्वर, जयपुर और अंगामली स्थित नेत्र बैंकों से भी कार्निया मंगवाकर दृष्टिबाधित लोगों को प्रत्यारोपित किए जाते हैं।

डायबिटीज़ रोगियों में ग्लूकोमा और डायबिटिक रैटिनोपैथी जैसे भयावह नेत्र रोग फैलने लगे हैं। सेवासदन में गत वर्ष 108 ग्लूकोमा नेत्र रोगियों के ऑपरेशन किए गए। इसी प्रकार रैटिनोपैथी के 255 रोगियों के ऑपरेशन भी सफलतापूर्वक किए गए। तिरछी आंख वाले बच्चों की आंखों की करेक्शनल सर्जरी हेतु दो विशेषज्ञ सेवारत हैं। आलोच्य अवधि में अस्पताल में 70 तिरछी आंख वाले बच्चों की सर्जरी कर उनकी आंखों का इलाज किया गया। इसी दौरान अल्पायु के 36 नेत्र रोगियों के कार्निया क्रास लिंकिंग ऑपरेशन भी किए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *