व्याख्यान: शरीर की चौकीदारी करता है लीवर: चौधरी

 

हिरदाराम नगर। 23 जून 2018

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर आयोजित स्वस्थ भारत निर्माण अभियान के तीसरे दिन डॉ. बिस्व रूपरॉय चौधरी ने कहा कि लीवर हमारे शरीर का बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है जो कि शरीर के लिए एक चौकीदार का काम करता है और अयोग्य पदार्थों को शरीर में प्रवेश करने से रोकता है। डॉ. चौधरी ने बार-बार इस बात पर जोर देते हुए कहा कि ईश्वर द्वारा प्रदत्त शरीर प्राकृतिक पदार्थों के सेवन से ही रोग मुक्त रहा जा सकता है
कार्यक्रम का आयोजन संत हिरदाराम प्राकृतिक चिकित्सा एवं योग महाविद्यालय तथा आरोग्य केन्द्र ने किया था। जीवन शैली में परिवर्तन द्वारा उपचार’’विषय पर बोलते हुए डॉ चौधरी ने कहा कि घर की रसोई में मौजूद 26 हर्ब एवं खाद्य पदार्थों से घरेलू दवाइयां बनाई जा सकती हैं। सामान्य बुखार से लेकर जटिल से जटिल बीमारियां जैसे कैंसर, मधुमेह, उच्च रक्त चाप, उच्च कोलेस्ट्रॉल, एड्स को भी घरेलू खाद्य पदार्थों एवं व्यायाम से ठीक किया जा सकता है। 26 हर्ब के विभिन्न मात्राओं में मिश्रण के साथ-साथ पोषण आहार को चार वर्गों में विभाजित कर उसे चार गियर डाइट की संज्ञा दी गयी । उन्होंने बताया कि किस रोग में किस आहार को कितनी अवधि तक किस अंतराल से लेना है। अंत में डॉ. बिस्वरूप रॉय चौधरी ने श्रोताओं के सवालों के जवाब दिए।

कार्यक्रम में दादा कानलखानी हाँगकाँग, सिद्धभाऊ, अध्यक्ष, शहीद हेमू कालानी ऐज्यूकेशनल सोसायटी, दिलीप दादलानीजी, मुम्बई, एल.एस. परिहार, ओ.एस.डी. लीगल, मध्यप्रदेश शासन, हीरो ज्ञानचंदानी, उपाध्यक्ष, ए.सी. साधवानी, सचिव, शहीद हेमू कालानी ऐज्यूकेशनल सोसायटी, महेश दयारामानी, सचिव, जीव सेवा संस्थान डॉ. चरनजीत कौर, प्राचार्य, संत हिरदाराम कन्या महाविद्यालय एवं डॉ. हिमांशु शर्मा, प्राचार्य संत हिरदाराम मेडिकल कॉलेज एवं डॉ. राकेश आनन्द, डायरेक्टर, संत हिरदाराम इन्स्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एवं डॉ. गुलाब टेवानी, आरोग्य केन्द्र उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *