होली : आसानी से रंग छुड़ाने के टिप्स

बीडीसी न्यूज
होली के दिन रंगों से खेलना बहुत अच्छा लगता है। होली खत्म होने के बाद यही रंग त्वचा या बालों पर रह जाएं तो बड़ा अजीब लगता है और उससे । होली खेलने के दौरान आपको अपनी सेहत की भी फिक्र करनी चाहिए। जरा सी लापरवाही आपकी त्वचा या बालों के लिए परेशानी का सबब बन सकती है। ज्यादातर होली के रंगों में केमिकल्स होते हैं और रंगों से त्वचा और बाल खराब हो सकते हैं। लापरवाही बरते जाने की स्थिति में आपकी त्वचा और बाल लंबे समय तक खराब हो सकते हैं। इससे बचने के लिए घरेलू नुस्खे इस्तेमाल किए जाते हैं। आईए जानते हैं कि होली के रंगों को आसानी से छुड़ाने के लिए आपको क्या-क्या करना चाहिए और किन टिप्स का इस्तेमाल करना चाहिए। होली खेलने से पहले भी सावधानी जरूरी और उसके बाद भी।
छह सावधानियां
होली को हेल्दी बनाने के लिए होली पर सूखे और हल्के रंगों का इस्तेमाल करें।
आपको चाहिए कि आप सावधानी बरतें और अपनी आंखों में रंग को जाने से बचाएं।
यदि आंखों में रंग चला भी जाए तो आंखों को तुरंत साफ पानी से आंखें धो लें।
होली के दौरान केमिकल वाले रंगों के प्रयोग से बचें।
ज्यादा देर तक रंगों को त्वचा पर नहीं रहने दें।
आप शरीर के खुल हिस्सों पर ऑयल लगाएं, इससे आपकी त्वचा पर रंग नहीं चढ़ेगा।
होली खेलने से पहले
रंगों से सराबोर होने से पहले अपने चेहरे, हाथों और शरीर के खुले हिस्सों पर मॉश्चराइजर क्रीम या फिर सनस्क्रीन लोशन अच्छी तरह से लगाना चाहिए। क्रीम को लगभग 10 मिनट तक त्‍वचा पर रगड़े और उसके बाद कुछ देर सूखने दें। ये उपाय ना सिर्फ आपको होली के रंगों से होने वाली साइड इफेक्ट्स से बचाएगा बल्कि आपको धूप के नुकसान से भी बचाएगा। आप होली पर सूखे और हल्के रंगों का इस्तेमाल करें। इसके लिए गुलाल बेहतर विकल्प है।
होली खेलने के बाद
होली खेलने के बाद बारी होती है रंग निकालने की । हर्बल रंग या आर्गेनिक रंग तो आसानी से छूट जाते है। लेकिन अगर आपको केमिकल वाले रंग छुड़ाने में दिक्कत हो रही है तो आप इन उपायों को करें। पहले आप चेहरे और हाथों का रंग छुड़ाने के लिए दही और बेसन का उपयोग करें। उसके बाद भी अगर रंग नहीं छूटता हो तो नींबू की कटी हुई फाक लेकर उसे धीरे-धीरे चेहरे पर रगड़े। इससे रंग आसानी से उतर जाएगा।
रंग छुड़ाने के उपाय
-चेहरे के रंग को छुड़ाने के लिए आप खीरे का उपयोग करें।
-रंग उतारने के लिए आप दूध का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। दूध एक अच्छा मॉश्चराइजर माना जाता है जो आपकी त्वचा को सॉफ्ट भी रखता है।
नहाने के लिए मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग कर सकते हैं। त्वचा पर भिगोई हुई मुल्तानी मिट्टी लगाएं और थोड़ी देर सूखने दें। फिर उसे धो लें।
– बेसन या आटे में नींबू का रस डालकर रंग छुड़ा सकते हैं।
– नींबू का रस और दही मिलाकर पेस्ट बनाएं और इसे लगाएं, फिर नहा लें। इससे भी रंग उतर सकता है।
– नारियल के तेल या दही से त्वचा को धीरे-धीरे रंग को साफ कर सकते हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *