कर्नाटक: यदियुरप्पा गए, आए कुमार स्वामी

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

बेंगलुरु 19 मई 2018
…. और कर्नाटक के सियासी ड्रामे में भाजपा के लिए अच्छी खबर नहीं आई। सुप्रीम कोर्ट ने बहुमत साबित करने का समय 15 दिन से घटाकर भाजपा की सारी स्क्रिप्ट बदल दी। यदियुरप्पा ने फ्लोर पर खुद को साबित करने से पहले ही नमस्ते करना बेहतर समझा। हालांकि जाते-जाते कह गए देखते हैं गठबंधन सरकार कितने दिनों चलेगी।

तमाम सियासी दांवपेच के बावजूद येदियुरप्पा ने विश्वासमत पर वोटिंग से पहले इस्तीफा देने का ऐलान कर दिया। अपने विदाई भाषण में यदियुरप्पा ने पीएम मोदी का शुक्रिया अदा किया और कहा, शायद पहली बार किसी पीएम ने सीएम कैंडिडेट तय किया। भाषण के तुरंत बाद यदियुरप्पा राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपने राजभवन चले गए। आपको चुनाव रिजल्ट के बाद से ही कर्नाटक का सियासी मिजाज गरम था, जो भाजपा कर सकती थी वह उसने किया, जो कांग्रेस कर सकती थी वह उसने किया। यदियुरप्पा के इस्तीफा देने के बाद कांग्रेस-जेडीएस के पोस्ट पोल अलायंस के लिए रास्ता साफ हो गया है।

स्वामी बनेंगे सीएम

यदियुरप्पा के इस्तीफे के बाद जेडीएस के कुमार स्वामी राज्यपाल से मिले। अपनी दावेदारी पेश की। राज्यपाल से मुलाकात के बाद कुमार स्वामी मीडिया से मुखातिब हुए। उन्होंने कहा, ‘हमें पता है कि बहुमत साबित करने के लिए हमारे पास पर्याप्त विधायक हैं और सभी विधायक शपथ ग्रहण समारोह का हिस्सा होंगे।’ कुमारस्वामी ने कहा, ‘हमने राज्यपाल के सामने सरकार बनाने का दावा पेश किया है और सोमवार को शपथ ग्रहण होगा। सभी से चर्चा के बाद मंत्रिमंडल का गठन किया जाएगा।’ उन्होंने कहा, ‘राज्यपाल की ओर से बुलाए जाने के बाद हमने दावा पेश किया है। सोमवार को 12 बजे से 1 बजे के बीच शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन किया जाएगा। मैंने इसमें सभी क्षेत्रीय दलों के नेताओं को आमंत्रित किया है।’

मोदी भ्रष्टाचारी, मोदी हत्या के आरोपी


कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीजेपी, मोदी और आरएसएस पर तीखा हमला बोला। राहुल ने मोदी को खुलकर भ्रष्टाचारी कहा, साथ ही बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के हत्या का आरोपी कहकर संबोधित किया। राहुल गांधी ने कहा कि कर्नाटक के पूरे घटनाक्रम से बीजेपी की सोच की हार हुई है। राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी और आरएसएस ने लोकतंत्र का अपमान करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। विधानसभा में पूरी एक्सरसाइज के बाद बीजेपी के विधायक और स्पीकर बगैर राष्ट्रगान खत्म हुए ही सदन छोड़कर चले गए।

ये तो ठीक नहीं है निरूपम

कांग्रेस नेता संजय निरूपम ने कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला की तुलना से कुत्ते से कर नये विवाद को पैदा कर दिया। निरुपम ने कहा, ‘इस में देश में वफादारी का नया कीर्तिमान स्‍थापित किया है वजुभाई वाला ने। अब शायद हिंदुस्‍तान का हर आदमी अपने कुत्‍ते का नाम वजुभाई वाला ही रखेगा क्‍योंकि इससे ज्‍यादा वफादार तो कोई नहीं हो सकता है। आप आरएसएस से आए हैं, मोदी जी के लिए अपनी सीट छोड़ दी थी। सब ठीक है साहब लेकिन आप संवैधानिक पद पर बैठे हैं। अगर आप कानून का पालन नहीं कर सकते हैं तो इस्‍तीफा दे दीजिए। ‘

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *