शाह का प्रवास : नेतानुमा कार्यकर्ताओं के लिए वक्त, आम कार्यकर्ता के लिए वक्त की कमी

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

अजय कुमार
भोपाल। 04 मई 2018
कर्नाटक चुनाव की व्यस्तताओं के बीच भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने वक्त निकाला। भले ही दो घंटे भोपाल में रहे हो, लेकिन नंदूभैया के बाद प्रदेश की कमान संभालने आए राकेश सिंह को संगठन के मंडल स्तर तक के कार्यकर्ताओं से अघोषित रूप से इंटरड‌‌्यूज कराया। प्रदेश कांग्रेस के बदलाव के बाद कमलनाथ की आमाद हुई है, कमलनाथ पर कारपोरेट लीडर का ठप्पा लगाने का काम शाह ने बाखूबी किया, भले ही कमलनाथ का नाम न लिया हो, लेकिन दो टूक शब्दों में कहा प्रदेश चुनाव में किसान और कारपोरेट का मुकाबला होने वाला है। कांग्रेस को राजा-महाराजों की पार्टी कहकर दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधा। कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए कहा, चौथी बार विजय की तो बात ही नहीं है, जीत ऐसी होनी चाहिए कि दुश्मन भी याद रखे।
राहुल पर सीधा हमला
राहुल गांधी पर अपने चिर परचित अंदाज में हमला करते अमित शाह नजर आए। उन्होंने कहा मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान में जीत का सपना देख रहे राहुल दूरबीन से कांग्रेस को ढूंढते रह जाओगे। 2014 से लगातार कांग्रेस का सफाया देख रहे राहुल कर्नाटक में 15वीं हार के लिए तैयार रहें। शाह यहीं नहीं रूके उन्होंने कहा कि 2014 में राहुल देशभर में हिन्दू टेरर कहते-कहते थके नहीं… हिन्दू संस्कृति और सनातन धर्म को बदनाम किया। राहुल को इसके लिए देश से माफी मांगना चाहिए। शाह के निशाने पर पूर्व मुख्यमंत्री और महासचिव दिग्विजय सिंह भी रहे। शाह ने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देने संबंधी बिल का जिक्र करते कहा कि राज्य सभा में दिग्गी ने रोड़े अटकाए। … और कहा कि आयोग में अल्पसंख्यक सदस्य रखा जाए। यह बात भाजपा कार्यकर्ता जनता को बताएं और कांग्रेस को एक्सपोज करें।

शिव राज की तारीफ
शाह ने शिवराज सिंह सरकार की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में प्रदेश की भाजपा सरकार ने विकास का रिकॉर्ड बनाया है। बीमारू राज्य से विकसित राज्य प्रदेश को बनाया है शिवराज ने।

कुछ देर तो रूक जाते शाह साहिब
अमित शाह के चन्द्र घंटों के भोपाल प्रवास की शुरूआत आम कार्यकर्ता के लिहाज से ठीक नहीं हुई। अपने अध्यक्ष के दो बोल सुनने के लिए कार्यकर्ता ढाई घंटे तक स्टेट हैंगर पर इंतजार करते रहे, लेकिन निराशा उस वक्त हाथ लगी, शाह मंच पर तो आए, लेकिन दो बात भी नहीं की। ऐसा करते तो पांच-दस मिनट और लगते। स्टेट हैंगर से भेल दशहरा मैदान जाना था अमित शाह को, जहां संगठन के लहजे में बात करे तो पदाधिकारी जमा थे प्रदेश स्तरीय विस्तारित बैठक के लिए। संगठन के बड़े कार्यकर्ताओं को विजय का बड़ा टास्क दिया अमित शाह ने। जिन नेताओं नुमा कार्यकर्ताओं को यह लक्ष्य दिया उनके लक्ष्य भेदन में वह आम कार्यकर्ता अहम होगा, जो स्टेट हैंगर इंतजार कर रहा था। शिवराज सिंह चौहान ने जरूर अबकी बार 200 पार का नारा लगाकर कार्यकर्ताओं को लक्ष्य का संकल्प दिलाया।

झूठ का सहारा लेगी कांग्रेस चुनाव में


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान बीमारू राज्य से विकसित राज्य में शामिल होने के मध्यप्रदेश के विकास के तुलनात्मक आंकड़े रखते हुए भाजपा सरकार की उपलब्धियां गिनाईं। …. और कहा कि कांग्रेस एक बार फिर इस चुनाव में भ्रम और झूठ फैलाएगी… कांग्रेसी विभाजन की राजनीति करते हैं। कांग्र्रेस विकास से मुकाबला नहीं कर सकती। करीब 40 मिनट के भाषण में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने अमित शाह को आधुनिक भारत का चाणक्य बताया और कहा कि मिशन 2018 में विजय का संकल्प दिलाने शाह भोपाल आए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस चुनाव में कांग्रेस झूठ का सहारा लेगी। भ्रम फैलाएगी। सीएम ने सरकार की योजनाओं को जिक्र भी किया और कहा सरकार ने हर सेक्टर में रिकॉर्ड काम किया है। दिग्विजय सिंह सरकार के समय के प्रदेश के विकास के आंकड़े भी सामने रखे। और कहा कि 15 मई से 15 जून तक भाजपा विकास यात्रा निकालेगी।

यह हुए शामिल

प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, संगठन मंत्री रामलाल, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, महासचिव कैलाश विजय वर्गीय, नंदकुमार सिंह चौहान, मंत्रिपरिषद के सदस्य, संगठन के मंडल स्तर तक के पदाधिकारी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *