रेपिस्ट को फांसी पर लटकाएगी सरकार

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

मोदी कैबिनेट ने अध्यादेश को दी मंजूरी
नई दिल्ली 21 अप्रैल 2018
मोदी कैबिनेट ने तीन ऑर्डिनेंस पर विचार हुआ। रेप कानून को सख्त करने, भगोड़े कर्जदारों पर नकेल कसने के अध्यादेश को मंजूरी दे दी गई, लेकिन एससी-एसटी एक्ट में बदलाव से कैबिनेट ने कदम वापस खींच लिए। तर्क दिया गया एससी-एसटी एक्ट के मामले में सुप्रीम कोर्ट सुनवाई के लिए तैयार हो गई है, कोर्ट के फैसले का इंतजार किया जाएगा। अध्यादेश को मंजूरी के लिए राष्ट्रपति के पास भेजा जाएगा। रेप के मामलों में तेज जांच और सुनवाई की समयसीमा भी तय कर दी है।

12साल तक की बच्चियों के साथ रेप करने वालों को फांसी की सजा तैयारी हो गई है। पास्को एक्ट को सख्त करते हुए नरेन्द्र मोदी कैबिनेट ने फांसी की सजा का अध्यादेश जारी करने को मंजूरी दी। उन्नाव ओर कठुआ रेप मामले में सरकार पर विपक्ष निशाना साध रहा है, आम आदमी में भी गुस्सा है। डैमेज कंट्रोल मोड में आते हुए केन्द्र सरकार ने रेप मामले में अध्यादेश लाई है। मध्यप्रदेश सरकार ने इस मामले में पहले ही कानून बनाने के लिए विधानसभा से विधेयक पारित कर दिल्ली भेजा है। करप्शन पर मोदी सरकार की नीति को नीरव मोदी और विजय माल्या मामले में लगे झटके के बाद गुस्से का शांत करने के लिए कर्जदारों पर सख्ती का अध्यादेश लाई है।

एससी-एसटी एक्ट में बदलाव के लिए अध्यादेश से सरकार ने यह तर्क देते हुए कदम पीछे खींच लिए की मामले में सुप्रीम कोर्ट पुनर्विचार कर रहा है, इसलिए फैसला का इंतजार किया जाएगा।

कैबिनेट ने पुनर्गठित राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान से संबंधित एक योजना को मंजूरी दे दी। पीएम मोदी मध्य प्रदेश के मांडला में 24 अप्रैल को इस योजना को औपचारिक रूप से लॉन्च करेंगे।

शिवराज-दिग्गी के एक सुर

इंदौर में आठ महीने की बच्ची के साथ हुई हैवानियत की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कड़ी निंदा की है और इस मामले में आरोपियों को सख्त सजा की वकालत की है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा है कि ‘ आज मन बहुत व्यथित है, इंदौर की घटना ने आत्मा को झकझोर दिया है। इतनी छोटी बच्ची के साथ ऐसा घिनौना कृत्य। समाज को अपने अंदर झांकने की जरूरत है। प्रशासन ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ़्तार किया है। हम सुनिश्चित करेंगे कि उसे जल्द से जल्द कड़ी से कड़ी सजा मिले। ‘

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *