कोलारस, मुंगावली हार का सीएम को मलाल

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

भोपाल। 04 मार्च 2018
मुंगावली में चुनाव नहीं जीत पाने का मलाल है, क्योंकि हम जीतने के लिए लड़े थे। यह जानते थे इन दोनों विधानसभा सीटों पर लड़ाई कठिन है, लेकिन उपचुनाव में हमने 2013 के चुनाव की तुलना में हार का अंतर कम किया है। हमारा वोट प्रतिशत भी बढ़ा है। रविवार को मुख्यंमत्री शिवराज ने अपने निवास पर मीडिया से चाय पर चर्चा के दौरान कहीं
सीएम शिवराज ने कहा कि हार का बड़ा कारण पहले से बड़ा गैप था, कांग्रेस ने भाजपा का ही वोट बांट लिया। बीजेपी ने 48 हजार के वोटों के अंतर को 2100 तक ला दिया है। मुंगावली और कोलारस में थोड़ी कसर रह गई थी, लेकिन इस बार कसर नहीं छोड़ेंगे। 2018 का चुनाव जीतेंगे और मध्यप्रदेश में फिर भाजपा सरकार बनाएगी। 2018 में शानदार बहुमत के साथ बीजेपी जीतेगी। उन्होंने कहाकि लड़ाई मेरी और सिंधिया की नहीं है, बल्कि लडृई विचारधारा की है।
पूर्वोत्तर की जीत अद्भूत
मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्वोत्तर मे मिली जीत भाजपा के लिए अद्भूत है, यहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की नीति पर जनता ने मुहर लगाई है। अमित भाई के कुशल नेतृत्व से भाजपा ने त्रिपुरा में इतिहास रचा है। ये जीत आसानी से नहीं मिली है। बीजेपी के कार्यकर्ताओं की हत्याएं तक हुई हैं। राजनीति में एक नया युग विकास का शुरू हुआ है। यह माना जाता था कि भाजपा उत्तर भारत की पार्टी है अब उसका राष्ट्रीय स्वरूप सामने आ गया है।
एक साथ चुनाव को लेकर कमेटी
मुख्यमंत्री ने केन्द्र राज्यों के साथ एक चुनाव को लेकर विचार के लिए पहल शुरू कर दी है। सीएम ने बताया कि संसदीय कार्य मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा की अगवाई में पत्रकारों और रिटायर्ड अधिकारियां की टीम बनाई गई है। चुनाव एक साथ चुनाव को लेकर जनता, जनप्रतिनिधि और बुद्धिजीवियों से चर्चा करेंगी। उनसे मिले सुझावों की रिपोर्ट केन्द्र सरकार और चुनाव आयोग को भेजी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *