दिल्लीः एमएलए ने सीएस को मारा थप्पड़

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

नई दिल्ली 20 फरवरी 2018
मामला दिल्ली का है.. और सीधा आम आदमी पार्टी से जुड़ा है। नैतिकता का पाठ पढ़ाने वाली पार्टी के दो एमएलए पर सीएस को थप्पड़ मारने का आरोप है। वाक्या सोमवार रात 12 बजे है। सीएस को सीएम निवास पर बुलाया गया था। मंगलवार को मामले में आईएएस अधिकारियों ने ड्यूटी जाएंगे काम नहीं करेंगे का ऐलान कर दिया। अधिकारियों ने एलजी से मुलाकात पर आप के विधायकों को बर्खास्त करने की मांग की है।
दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार अब एक नए विवाद में फंसती दिख रही है। आरोप है कि मुख्यमंत्री आवास पर राज्य के चीफ सेक्रटरी अंशु प्रकाश के साथ हाथापाई की गई है। हालांकि सीएम केजरीवाल के ऑफिस ने ऐसी किसी भी घटना से साफ इनकार किया है। चीफ सेक्रटरी ने आम आदमी पार्टी के विधायकों पर थप्पड़ मारने और अपशब्द का प्रयोग करने का आरोप लगाया। यह सबकुछ सीएम की मौजूदगी में हुआ, जिसकी वजह से दिल्ली सरकार को विपक्ष का तगड़ा विरोध भी झेलना पड़ रहा है। दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने केजरीवाल से माफी मांगने की मांग की है। उधर घटना पर विरोध जताते हुए दिल्ली में आईएएस असोसिएशन ने हड़ताल पर जाने का ऐलान कर दिया है।
इस घटना के बाद आप ने आरोपों पर सफाई दी है। एक बयान जारी कर आप ने कहा कि दिल्ली के 2.5 लाख परिवारों का आधार राशन कार्ड से नहीं जुड़े होने के कारण उन्हें राशन नहीं मिल पाया है। इसके कारण उन क्षेत्र के विधायकों पर लोगों का काफी दबाव है। इसी पर सीएम के घर पर विधायकों की बैठक थी। इस दौरान चीफ सेक्रटरी ने सवालों का जवाब देने से यह कहते हुए इनकार कर दिया कि वह विधायकों और सीएम के प्रति नहीं बल्कि उपराज्यपाल के प्रति जवाबदेह हैं।
सीएस ने की अभ्रदता
आप ने आरोप लगाया कि उल्टे चीफ सेक्रटरी ने कुछ विधायकों के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग किया और बिना सवालों का जवाब दिए वहां से चले गए। पार्टी ने आरोप लगाया कि चीफ सेक्रटरी बीजेपी की तरफ से यह आरोप लगा रहे हैं। बीजेपी निचले स्तर की राजनीति कर रही है। इस बीच आप के विधायक ने चीफ सेक्रटरी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। संगम विहार थाने में विधायक प्रकाश जारवाल ने मुख्य सचिव के खिलाफ जातिसूचक शब्दों के प्रयोग करने की शिकायत दर्ज कराई गई है।
कांग्रेस ने निशाना साधा
दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष माकन ने आरोप लगाया कि आप सरकार निकम्मी है। सीएम के सामने चीफ सेक्रटरी को विधायकों द्वारा पीटा जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। यह सरकारी असफलताओं से लोगों का ध्यान भटकाने का तरीका है। आप को शासन चलाने नहीं आता है और यह सरकार पूरी तरह असफल है। इस घटना के बाद बीजेपी ने केजरीवाल सरकार को अराजक करार देने के बाद राजधानी में राष्ट्रपति शासन की मांग कर रही है।
भाजपा भी आक्रमक
दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने ट्वीट करते हुए इस घटनाक्रम को शर्मनाक बताया और इसे शहरी नक्सलवाद करार दिया। दिल्ली विधानसभा के नेता विपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने इस घटना पर ट्विट करते हुए लिखा कि यह मुख्यमंत्री केजरीवाल के तानाशाह रवैये को दर्शाता है। आधी रात 12 बजे मुख्यसचिव को बुलाया जाता है और उनके साथ बदसलूकी की जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *