पीएनबी घोटालाः तीन गिरफ्तारियां कीं सीबीआई ने

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

नई दिल्ली 17 फरवरी 2018
पीएनबी महाघोटाला मामले में शनिवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए सीबीआई ने बैंक के पूर्व डेप्युटी मैनेजर गोकुलनाथ शेट्टी, एसडब्ल्यूओ मनोज खरात और हेमंत भट्ट को गिरफ्तार कर लिया है। भट्ट नीरव मोदी की कंपनी का अधिकृत हस्ताक्षरकर्ता था।
बता दें कि पीएनबी घोटाले का मुख्य आरोपी नीरव मोदी देश छोड़कर जा चुका है जबकि एक अन्य आरोपी मेहुल चौकसी भी भारत से बाहर है।
11,300 करोड़ रुपये के इस घोटाले में नीरव मुख्य आरोपी है। गौरतलब है कि पीएनबी के एक डेप्युटी मैनेजर गोकुलनाथ शेट्टी पर ही कथित तौर पर स्विफ्ट मेसेजिंग सिस्टम का दुरुपयोग करने का आरोप है। बैंक इसी सिस्टम से विदेशी लेनदेन के लिए एलओयूएस के जरिए दी गई गारंटीज को ऑथेंटिकेट करते हैं। इन्हें ऑथेंटिकेशनों के आधार पर कुछ भारतीय बैंकों की विदेशी शाखाओं ने फॉरेक्स क्रेडिट दी थी। पीएनबी घोटाले में 18 कर्मचारियों को निलंबित कर चुका है।
यह घोटाला कथित रूप से जूलर नीरव मोदी ने किया है। इस घोटाले में कई बड़ी आभूषण कंपनियां मसलन गीतांजलि, गिन्नी और नक्षत्र भी विभिन्न जांच एजेंसियों की जांच के दायरे में आ गई हैं। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘चार बड़ी आभूषण कंपनियां गीतांजलि, गिन्नी, नक्षत्र और नीरव मोदी जांच के घेरे में हैं। सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय उनकी विभिन्न बैंकों से सांठगांठ और धन के अंतिम इस्तेमाल की जांच कर रहे हैं।’ अधिकारी ने कहा कि वित्त मंत्रालय से सख्त निर्देश है कि कोई बड़ी मछली बचने न पाए और ईमानदार करदाता को किसी तरह की परेशानी न हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *