गुजरात से शिवराज उल्टे पांव लौटे!

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

भोपाल
गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी  के शपथग्रहण समारोह में शामिल होने मंगलवार को अहमदाबाद गये मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बिना समारोह में शामिल हुए ही वापस लौट आए। राजनीतिक गलियारों में शिवराज का यूं वापस आना चर्चा का विषय बना हुआ है। हालांकि शिवराज ने कहा है कि प्रदेश में उनका कई कार्यक्रम पहले से तय था, इसलिए उन्हें लौटना पड़ा। वहीं कांग्रेस का दावा किया है कि केंद्रीय नेतृत्व की फटकार के कारण शिवराज उल्टे पांव लौटे हैं।

शपथ ग्रहण समारोह छोड़कर सीएम के अचानक मध्य प्रदेश लौटने पर हर कोई अचंभित है। वहीं शिवराज का कहना है कि उन्होंने रुपाणी से मुलाकात की और उन्हें गुलदस्ता भेंटकर भविष्य की शुभकामनाएं दीं। इसके बाद पार्टी अध्यक्ष अमित शाह  से अनुमति लेकर वापस लौटे हैं। पर, सवाल यह है कि रुपाणी को सिर्फ बधाई ही देनी थी तो शिवराज सिंह फोन पर भी दे सकते थे। इसके लिए अहमदाबाद तक जाकर सरकार का लाखों का नुकसान क्यों किया गया।

इधर, यह बात भी सामने आई है कि मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से जो कार्यक्रम जारी हुआ था, उसमें भी शिवराज को पहले रुपाणी के शपथग्रहण समारोह में शामिल होना था। उसके बाद उन्हें यहां वापस आकर कोलारस और अशोकनगर में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेना था।

कांग्रेस प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी का कहना है कि राज्य सरकार कोलारस और मुंगावली विधानसभा क्षेत्र में होने वाले उपचुनाव को ध्यान में रखकर पूरा जोर लगा रही है। इन दोनों क्षेत्रों में पूरी ताकत झोंकने के बाद भी बीजेपी की हालत खराब है। कांग्रेस का दावा है कि इस बात की जानकारी पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को भी है। यही वजह है कि उन्होंने शिवराज को शपथ समारोह शामिल होने के बजाय वापस कोलारस और मुंगावली भेज दिया। उधर, शिवराज ने कहा है कि पहले से तय कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के लिए उन्हें लौटना पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *