अम्मा की सीट पर दिनकरण जीते

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

कोयंबटूर 24 dec2917
तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता की सीट पर हुए उपचुनाव के चैंकाने वाले नतीजे सामने आए हैं। आरके नगर उपचुनाव में अम्मा की पार्टी एआईएडीएम के को तगड़ा झटका लगा है। पार्टी से किनारे किए गए शशिकला के भतीजे दिनकरन ने शानदार जीत दर्ज की है। इसके बाद अब प्रांत की सत्तारूढ़ पार्टी का समीकरण गड़बड़ा सकता है। दरअसल, आरके नगर सीट से पूरी पार्टी का भावनात्मक जुड़ाव रहा है और यहां मिले जनादेश से संकेत मिले हैं कि लोगों को म्च्ै.व्च्ै र ज्यादा भरोसा नहीं है। ऐसे में पार्टी के भीतर नेताओं की रैंक बदल सकती है।

दिनकरन ने निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ा था और अब वह खुद को अम्मा का असली वारिस कह रहे हैं। खास बात यह भी है कि दिनकरन ने अम्मा से भी बड़ी जीत हासिल की है। 2016 के चुनाव में जयललिता 39,545 वोटों के अंतर से जीती थीं जबकि दिनकरन ने 40,707 मतों के अंतर के ऐतिहासिक जीत दर्ज की है।

मुख्यमंत्री पलनिस्वामी और उपमुख्यमंत्री पन्नीरसेल्वम के साथ खड़े पार्टी के लोग नतीजे से काफी निराश हैं। दो पत्ती के चुनाव चिह्न पर लड़ने के बावजूद पार्टी के वरिष्ठ नेता ई. मधुसूदनन को करारी हार झेलनी पड़ी है। जबकि भारतीय चुनाव आयोग में चुनाव चिह्न को लेकर चली लंबी लड़ाई जीत ली गई थी। ऐसे में आरके नगर के नतीजे से अब ईपीएस ओपीएस को अप्रभावी माना जा रहा है।

पहले अनुमान लगाया गया था कि टीटीवी दिनकरन के कैंप में गए 18एमएलए मधुसूदनन की जीत के बाद घर वापसी कर सकते हैं। लेकिन, अब आशंका जताई जा रही है कि इसका ठीक उल्टा हो सकता है। ईपीएस ओपीएस गुट से ज्यादा संख्या में लोग दिनकरन खेमे का दामन थाम सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *