डोकलाम विवाद_बयानबाजी करने की जरूरत नहीं

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डोकलाम विवाद में भारत की कूटनीतिक जीत पर अपने मंत्रियों से बयानबाजी से बचने के लिए कहा है। हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार पीएम मोदी ने कहा है कि डोकलाम विवाद में मिली सफलता का प्रचार करना जरूरी है लेकिन ये काम केवल विदेश मंत्रालय करेगा। विदेश मंत्रालय के अलावा बाकी लोगों को इस संवेदनशील मसले पर बयानबाजी करने की जरूरत नहीं है। अखबार ने प्रधानमंत्री के करीबी सूत्र के हवाले से लिखा है कि पीएम मोदी ने बुधवार (30 अगस्त) को अपने मंत्रिमंडल की बैठक में ये बाते कहीं। पीएम मोदी नौवें ब्रिक्स (ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका) सम्मेलन में शामिल होने के लिए सितंबर पहले हफ्ते में चीन के शियामेन जाने वाले हैं। पीएम मोदी तीन सितंबर से पांच सितंबर तक चीन में होने वाली बैठक में शामिल होंगे।

पीएम मोदी ने कैबिनेट बैठक में कहा कि जो भी प्रचार होना है, जो भी बयान देना है वो विदेश मंत्रालय से जुड़े मंत्री देंगे। अन्य केंद्रीय मंत्रियों को बीच में बयानबाजी करने की जरूरत नहीं है। रिपोर्ट के अनुसार विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने कैबिनेट बैठक में डोकलाम विवाद पर एक प्रस्तुती भी दी जिसमें इस मामले की वस्तुस्थिति और भारत की चिंताओं का ब्योरा पेश किया गया। कैबिनेट बैठक के बाद जब वित्त और रक्षा मंत्री अरुण जेटली से डोकलाम विवाद से जुड़ा सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि विदेश मंत्रालय पहले ही अपना बयान जारी कर चुका है इसलिए अलग-अलग बयान की कोई जरूरत नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *