नरोत्तम मिश्रा को बड़ा झटका, नहीं लड़ पाएंगे चुनाव!

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

नई दिल्ली. भोपाल। 24 जून 2107
चुनाव आयोग ने 2008 के चुनाव में पेड न्यूज मामले में प्रदेश के कदावर नेता और जनसंपर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा को झटका दिया है। चुनाव आयोग ने मिश्रा को तीन साल के चुनाव लड़ने के लिए आयोग घोषित कर दिया है। आयोग के इस फैसले से मध्यप्रदेश में होने वाला विधानसभा चुनाव नहीं लड़ पाएंगे। आयोग के फैसले को जहां कांग्रेस के प्रवक्ता केके मिश्रा ने स्वागत किया है, वहीं बीजेपी के पूर्व प्रवक्ता हितैष वाजपेयी ने तकनीकी मामला बताया है। चुनाव खर्च को लेकर आयोग का यह बड़ा फैसला है। नरोत्तम मिश्रा को मंत्री पद भी छोड़ना पड़ सकता है, हालांकि मिश्रा इस मामले आगे जा सकते हैं।
जनसंपर्क विभाग भारी है।
फ्लैश बैक में जाएं तो जनसंपर्क विभाग का दायित्व निभाने वाले कई चेहरों को राजनीतिक झटका लगा है। कांग्रेस शासन में जनसंपर्क विभाग संभालने वाले सत्यनारायण शर्मा शराब कारोबारी की डायरी में उलझे थे। भाजपा शासन की बात करें तो मुख्यमंत्री रहते हुए जनसंपर्क विभाग अपने पास रखने वाले बाबूलाल गौर को सीएम पद छोड़ना पड़ा था। लक्ष्मीकांत शर्मा व्यावसायिक परीक्षा मंडल में नप गए थे। मौजूदा जनसंपर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा पेड न्यूज में कार्रवाई की जद्द में आए हैं।
इधर भाजपा दमोह से भाजपा सांसद प्रहलाद पटेल नरोत्तम मिश्रा पर निर्वाचन आयोग के फैसले का स्वागत किया। इस मसले पर ट्वीट कर पटेल ने कहा है कि निर्वाचन से जुड़े फैसले तय समय सीमा हो, ताकि संसाधनों का दुरूपयोग करने का कोई दुस्साहस न कर सके।
नरोत्तम का पक्ष
जनसंपर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा का इस मामले में कहना है कि आयोग के फैसले को लेकर वह न्यायालय में जाएंगे, उम्मीद है कोर्ट से न्याय मिलेगा। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने साफ किया है कि वह फैसले से सहमत नहीं है, नरोत्तम कोर्ट जाएंगे। वह पद भी बने रहेंगे।

सबक है फैसला
आयोग के फैसले के बाद आयेग में मामला ले जाने वाले पूर्व विधायक राजेन्द्र भारती ने नरोत्तम मिश्रा से इस्तीफे की मांग की है। भारती ने कहा है कि निर्णय से साफ हो गया है कि जो भी आचार संहिता का उल्लंघन कर चुनाव लड़ते है वह आज नहीं तो कल कार्रवाई होगी। उन्होंने आयोग के फैसले को ऐसे लोगों के लिए सबक बताया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *