गांधी-दीनदयाल के सपनों का भारत बनाना है

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

नई दिल्ली 25 जुलाई 2017 बीडीसी न्यूज डेस्क
देश के 14वें राष्ट्रपति के रूप में रामनाथ कोविंद ने मंगलवार को संसद भवन में शपथ ली। संसद भवन के केंद्रीय कक्ष में चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया जेएस खेहर ने उन्हें पद की शपथ दिलाई। कोविंद ने हिंदी में शपथ ली। इस मौके पर उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा अध्यक्ष, मंत्रिपरिषद के सदस्य, राज्यों के राज्यपाल, मुख्यमंत्री, राजनयिक मिशनों के प्रमुख, संसद सदस्य और भारत सरकार के प्रमुख असैनिक और सैनिक अधिकारी केंद्रीय कक्ष में मौजूद रहे। शपथ ग्रहण के बाद नये राष्ट्रपति को 21 तोपों की सलामी दी गयी।
राजघाट पर श्रद्धांजलि
शपथ लेने के पहले रामनाथ कोविंद राजघाट जाकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर उनकी पत्नी भी उनके साथ थीं। शपथ लेेने के बाद महामहिम ने कहा कि महात्मा गांधी और दीनदयाल उपाध्याय के सपनों का भारत बना है, जिसकी चिंता में अंतिम पंक्ति में खड़ा अंतिम व्यक्ति हो। मैं एक छोटे से गांव से आया हूं, मैं देश के 125 करोड़ नागरिकों को नमन करता हूं। मिट्टी के घर में पला-बढ़ा हूं। ये मेरी नहीं सभी की कहानी रही है।
पीएम ने किया स्वागत
संसद भवन पहुंचे रामनाथ कोविंद और प्रणब मुखर्जी की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अगवानी की। समारोह में मंत्रियों और सांसदों के शामिल होने की व्यवस्था के तहत अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने लोकसभा की कार्यवाही शुरू होने के एक मिनट के भीतर ही दोपहर बाद तीन बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

क्या ली शपथ

“मैं (नाम) ईश्वर की शपथ लेता हूं कि मैं श्रद्धापूर्वक भारत के राष्ट्रपति के पद का कार्यपालन करूंगा तथा अपनी पूरी योग्यता से संविधान और विधि का परिरक्षण, संरक्षण और प्रतिरक्षण करूंगा, और मैं भारत की जनता की सेवा और कल्याण में निरत रहूंगा।”

“I, (NAME)., do swear in the name of God/solemnly affirm that I will faithfully execute the office of President (or discharge the functions of the President) of India and will to the best of my ability preserve, protect and defend the Constitution and the law and that I will devote myself to the service and well-being of the people of India.”.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *