ACAI : अर्थ क्रांति के लिए पीएम ने चमकाया, समझाया और साथ मांगा

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

नई दिल्ली. 01 जुलाई 2018 डीडी न्यूज लाइव
मौका इंस्टीटयूट ऑफ चार्टर्ड एकाउंटेंट ऑफ इंडिया के चार्टर्ड एकांउटेंट के स्थापना दिवस का था… लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आर्थिक सुधार में बाधा न बनने का आग्रह एकाउंटेंट से आगाह करते हुए कहा- आप देश की अर्थ व्यवस्था के डाॅक्टर हैं, समाज की आर्थिक अर्थ व्यवस्था के लिए देश के सुधार प्रयासों में साथ आएं। अपने क्लाइंट्स को सही रास्ता दिखाएं। आपके हस्ताक्षर का महत्व पीएम से हस्ताक्षर से अधिक है, इसलिए सोच समझकर करें।
ACAI_ क्या- क्या कहा मोदी ने

  •  अपने ग्राहकों को ईमानदारी की राह पर लाने की जिम्मेदारी लें, ऐसा न करें, जिससे निवेशकों की जिंदगी भर की जमा पूंजी डूब जाए।
  • मेरी और आपकी राष्ट्रभक्ति में जरा भी अंतर नहीं है, लेकिन वह दिखनी चाहिए।
  • स्वच्छ भारत के साथ ही हम भारत की अर्थव्यवस्था की भी सफाई कर रहे हैं, आपका साथ चाहिए।
  • 13 सालों में अनियमितताओं के मामलों में केवल 25 सीए पर ही कार्रवाई क्यों, जबकि 1400 सीए के खिलाफ मामले लंबित हैं।
  •  करोड़ों की कारें खरीदी जा रही हैं, विदेश यात्राओं पर करोड़ों खर्च हो रहे हैं…. केवल 32 लाख भारतीय ही अपनी आय 10 लाख रुपये सालाना बता रहे हैं, यह तथ्य बहुत कुछ कहता है। राष्ट्र के प्रति अपने दायित्व को निभाएं।
  • सरकार कालेधन को छुपाने में मदद करने वाली इकाइयों के खिलाफ और कठोरता बरतने को प्रतिबद्ध है।
  • मुझे मालूम है इस तरह के फैसले किसी भी राजनीतिक दल के लिए कितने नफा नुकसान वाले हो सकते हैं, लेकिन राष्ट्र के लिए इसकी परवाह नहीं।
  • सरकार एक लाख से अधिक कंपनियों का रजिस्ट्रेशन कैंसिल कर चुकी है, 37,000 से अधिक फर्जी कंपनियों की पहचान कर ली गई है।
  •  नोटबंदी के बाद आंकड़ों की तह तक जाने से दिखता है कि तीन लाख से अधिक पंजीकत कंपनियां संदिग्ध लेन-देन में लिप्त मिली हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *