कॉमनवेल्थ गेम्स: पाकिस्तान ने भारत से छीनी जीत

07 अप्रैल 2018 

मिली जानकारी के मुताबिककॉमनवेल्थ गेम्स में शनिवार को भारत और पाकिस्तान के बीच हॉकी मुकाबला बेहद रोमांचक रहा। मैच के शुरुआत से ही दोनों टीमें एक-दूसरे पर हावी होने की कोशिश करती दिखीं। आखिरी पलों में भी यह नजर भी आया। मैच के चौथे क्वॉर्टर तक भारत 2-1 से बढ़त बनाए हुए था। ऐसा लग रहा था कि पाकिस्तान हार जाएगा, लेकिन आखिरी 7 सेकंड में उसने पासा पलट दिया। उसने इस दौरान दो पेनाल्टी कॉर्नर लिए और आखिरी पल में एक गोल कर मैच को बराबरी पर ला दिया।

पाकिस्तान ने ऐसे भारत से छीनी जीत-आखिरी के सात सेकंड 

59:52 मिनट: भारत 2-1 से आगे था।
59:53 मिनट: पाकिस्तान ने वीडियो रेफरल मांगा। पाकिस्तान को पेनाल्टी कॉर्नर मिला।
59:56 मिनट: अली मुबाशर पेनाल्टी कॉर्नर को गोल में बदलने से चूक गए। उनकी रेफरी से बहस हुई।
59:57 मिनट: रेफरी ने मुबाशर को ग्रीन कार्ड दिखाया।
59:58 मिनट: पाकिस्तान ने फिर वीडियो रेफरल मांगा।
59:59 मिनट:पाकिस्तान को पेनाल्टी कॉर्नर मिला। पाकिस्तानी खेमे में उत्साह की लहर दौड़ गई।

60:00 मिनट:अली मुबाशर ने पेनाल्टी कॉर्नर को गोल में बदलकर मैच ड्रा (2-2) करा लिया।

भारत: दिलप्रीत और हरमनप्रीत सिंह ने एक-एक गोल किए

– मैच के शुरुआत से ही दोनों टीमों एक-दूसरे पर हावी होने की कोशिश करती दिखीं।

– मैच के 12:43वें मिनट दिलप्रीत सिंह गोल कर भारत को 1-0 की बढ़त दिलाई। इस दौरान भारतीय खिलाड़ियों ने अटैक जारी रखा। सात मिनट बीते ही थे कि मैच के 19:41वें मिनट पर हरमनप्रीत सिंह ने पेनाल्टी कॉर्नर को गोल

में बदल दिया। इस तरह भारत दो क्वॉर्टर के पहले 2-0 से बढ़त बना चुका था।

पाकिस्तान: इरफान जूनियर और मुबाशर ने एक-एक गोल किए

– तीसरे क्वार्टर में 38:30वें मिनट में पाकिस्तान के मोहम्मद इरफान जूनियर ने गोल दागा।

– दूसरा गोल मैच के आखिरी क्षणों में अली मुबाशर ने किया।

दोनों टीमों को 13 पेनाल्टी कॉर्नर मिले, सिर्फ दो गोल में बदले
– भारत को मैच के दौरान 5 पेनाल्टी कॉर्नर मिले। वह सिर्फ एक को ही गोल में तब्दील कर पाया।
– उधर, पाकिस्तान को 8 पेनाल्टी कॉर्नर मिले। इनमें से पांच पेनाल्टी कॉर्नर उसे आखिरी क्वॉर्टर में मिले। वह भी सिर्फ एक को ही गोल में बदल पाया।

भारत की जीत का सिलसिला टूटा

– पिछले दो साल में भारत और पाकिस्तान की हॉकी टीमों के बीच आठ मैच हुए हैं। इनमें आज का मुकाबला छोड़ दें तो सभी में भारत ने जीत दर्ज की है। यूं कहें कि पाकिस्तान के खिलाफ भारत का जीत का सिलसिला टूट गया।

टूर्नामेंटजगहदिनजीतहारगोल किएगोल खाए
अजलन शाह कपइपोह12-04-2016भारतपाक51
एशिया हॉकी चैम्पियंसकुआनतान23-10-2016भारतपाक32
एशिया हॉकी चैम्पियंसकुआनतान30-10-2016भारतपाक32
हॉकी वर्ल्ड लीग सेमीलंदन18-06-2017भारतपाक71
हॉकी वर्ल्ड लीग सेमीलंदन24-06-2017भारतपाक61
हॉकी एशिया कपढाका15-10-2017भारतपाक31
हॉकी एशिया कपढाका21-10-2017भारतपाक40
कॉमनवेल्थ गेम्सगोल्ड कोस्ट07-04-2018ड्राड्रा22

कॉमनवेल्थ गेम्स: पहले दो मैच खेले, एक-एक जीते
– 2006 मेलबर्न कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत और पाकिस्तान की पहली भिड़ंत हुई। 18 मार्च, 2006 को हुए इस मैच में पाकिस्तान ने भारत को 4-1 से हरा दिया।
– 2010 दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स में फिर पूल मुकाबले में भारत-पाकिस्तान के बीच भिड़ंत हुई। भारत ने इसमें 7-4 से जीत दर्ज की। भारत की ओर से संदीप (तीसरे व 11वें मिनट), शिवेंद्र (19वें और 59वें मिनट) ने दो-दो गोल किए। वहीं सरवनजीत (20वें मिनट), मुजतबा (41वें मिनट) और धरमवीर (45वें मिनट) ने एक-एक गोल दागे। पाकिस्तान की ओर से इमरान (27वें मिनट), रिजवान (29वें मिनट), इरफान (58वें मिनट) और अब्बासी (68वें मिनट) ने एक-एक गोल किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *