संस्कार आधारित स्मार्ट सिटी बनाने में सहयोग दें

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn
भोपाल : गुरूवार, फरवरी 8, 2018

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल के नागरिकों से भोपाल शहर को भारतीय संस्कारों और मूल्यों पर आधारित स्मार्ट सिटी बनाने में सहयोग करने आव्हान किया है। उन्होंने कहा है कि उच्च नागरिक संस्कारों के प्रतीक शहर के रूप में भी भोपाल अपनी पहचान बनाये।

श्री चौहान आज यहां भोपाल स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट कार्पोरेशन द्वारा किये जा रहे क्षेत्र आधारित विकास कार्यों के अंतर्गत शासकीय बहुमंजिला आवासों के भूमि-पूजन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। श्री चौहान ने इनक्यूबेशन केन्द्र और एकीकृत कंट्रोल एवं कमांड सेंटर सहित कुल 500 करोड़ रुपये लागत के कार्यों का शिलान्यास किया गया।

श्री चौहान ने कहा कि भोपाल शहर को आधुनिक बनाने के लिए 18 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा के निर्माण कार्य चल रहे हैं। उन्होंने नागरिकों से आग्रह किया कि वे भोपाल को न सिर्फ देश  बल्कि विश्व के बेहतरीन शहरों में शामिल करने में कोई प्रयास अधूरे नही छोड़े। उन्होंने कहा कि भोपाल को झुग्गी मुक्त शहर बनाने में किसी प्रकार की कसर नही छोड़ेंगे। श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में 51 हजार 894 मकान बनाकर जरूरतमंदों को दिए जा रहे हैं। इस योजना में 13 हजार से ज्यादा मकान बन चुके हैं। भोपाल को आधुनिक बनाने में एक हजार करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च किये जा रहे हैं। उन्होंने नागरिकों से भोपाल को स्वच्छता सर्वे में देश का नंबर वन शहर बनाने का संकल्प दिलाया।

श्री चौहान ने मुख्यमंत्री आश्रय योजना के अंतर्गत पात्र लोगों को आवासीय पट्टे वितरित किये। उन्होंने कहा कि कोई गरीब बिना आवास के नहीं रहेगा, उन्हें पूरा सम्मान मिलेगा। श्री चौहान ने कहा कि सरकार ने कर्मचारियों और हर वर्ग का पूरा ध्यान रखा है।

मुख्यमंत्री ने शौर्य स्मारक का उल्लेख करते हुए कहा कि अब यह देशभक्ति का संस्कार देने का प्रेरणा केन्द्र बन चुका है। उन्होंने बताया कि भारत माता मंदिर परिसर के निर्माण के लिए जमीन आवंटित दी गई है। रानी कमलापति की प्रतिमा भी स्थापित की जाएगी। उन्होने कहा कि देश भक्ति की प्रेरणा देने वाले शहर के रूप में भी भोपाल की पहचान होगी।

भोपाल जिले के प्रभारी  मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान प्रधानमंत्री श्री मोदी के स्मार्ट शहरों के सपने को साकार कर रहे हैं। उन्होने कहा कि भोपाल शहर को स्मार्ट बनाने के साथ  शिक्षा, संस्कार, नागरिक कर्तव्यों के पालन में भी स्मार्ट बनाया जाना चाहिये।

राजस्व मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता ने कहा कि स्मार्ट सिटी  प्रकृतिजन्य सुंदर शहर के बीच भोपाल की शान होगी और शहर का गौरव बढ़ाएगी। भोपाल महापौर आलोक शर्मा ने बताया कि भविष्य की जरूरतों को ध्यान में रखकर स्मार्ट सिटी के विकास का रोडमैप बनाया गया है।

भोपाल कलेक्टर और स्मार्ट सिटी कार्पोरेशन  के अध्यक्ष श्री सुदाम खाड़े ने  स्मार्ट सिटी शहर की परियोजनाओं की जानकारी देते हुए बताया कि नौ परियोजनाएं पूरी हो गई हैं और 22 भविष्य में पूरी हो जाएँगी। इन्क्यूबेशन केन्द्र और एकीकृत कंट्रोल एन्ड कमांड सेंटर स्मार्ट सिटी का मुख्य आकर्षण होंगे। एकीकृत कंट्रोल एन्ड कमांड सेंटर पर एक ही जगह सभी डिजिटल सुविधाएं उपलब्ध होंगी जिससे शहर के यातायात पर निगरानी रखी जा सकती  है। इस अवसर पर स्मार्ट सिटी का स्वरूप दिखाने वाली  एक फ़िल्म  भी दिखाई गई।

मंत्रोच्चारण के साथ भूमि-पूजन कार्यक्रम संपन्न हुआ। पूर्व मुख्यमंत्री श्री बाबूलाल गौर, सहकारिता राज्य मंत्री श्री विश्वास सारंग, विधायक श्री सुरेन्द्र नाथ सिंह, नगर निगम अध्यक्ष डॉ. सुरजीत सिंह चौहान, मध्यप्रदेश माटीकला बोर्ड के अध्यक्ष श्री रामदयाल प्रजापति और बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *