‘भोपाल कॉल गर्ल’ सरगना अब लाॅकअप में, पांच हजार का था इनाम

share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

भोपाल। 14 जुलाई 2017 बीडीसी न्यूज

भोपाल काॅल गर्ल वेबसाइड बनाने वाले गिरोह का सरगना सायबर क्राइम पुलिस के हाथ लगा है… हालांकि पुलिस दो महीने में आरोपी तक पहुंच पाई है। इससे पहले मामले में नौ गिरफ्तारियां हो चुकी हैं।

अश्लील वेबसाइट भोपाल कॉल गर्ल के मामले में राजधानी भोपाल की सायबर क्राइम पुलिस ने दो माह पूर्व 9 आरोपियों को गिरफ्तार किया था। इस गिरोह का मुख्य सरगना सुभाष उर्फ वीर द्विवेदी उम्र 24 वर्ष निवासी ई-7 26-27 राधा अपार्टमेंट अशोका सोसायटी अशोका गार्डन, बीते दो माह से फरार चल रहा था। पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी के लिए 5 हजार रुपए का इनाम भी घोषित किया था।

सायबर क्राइम एआईजी शैलेन्द्र सिंह चैहान ने बताया कि करीब दो माह पूर्व सायबर पुलिस ने ई-7 अरेरा कॉलोनी एवं भरत नगर स्थित फ्लैट पर छापा मारकर अश्लील वेबसाइट चलाकर देह व्यापार करवाने वाले एक गिरोह के 9 सदस्य को पकड़ा था। गिरोह के सदस्य ‘भोपाल कॉल गर्ल’ नामक वेबसाइट के जरिए इस धंधे का अंजाम दे रहे थे।

एआईजी चैहान का कहना है कि इस गिरोह का मुख्य सरगना सुभाष उर्फ वीर द्विवेदी उस समय से फरार चल रहा था। वीर द्विवेदी को पकड़ने के लिए पांच हजार रुपए का इनाम भी घोषित किया गया था। सायबर पुलिस ने मुखबिर से प्राप्त सूचना के आधार पर वीर द्विवेदी को मंगलवारा थाना पुलिस की मदद से पकड़ा है। पूछताछ में आरोपी वीर द्विवेदी द्वारा बताया गया कि उन्होंने भोपाल कॉल गर्ल वेबसाइट दिल्ली से बनवाई थी।

इसके माध्यम से ग्राहकों से संपर्क कर लड़कियां सप्लाई करने का काम किया जा रहा था। लोगों को आकर्षित करने के लिए लड़कियों की तस्वीरें डाली जाती थी। बाद में फोन पर हुई बात के आधार पर ग्राहकों को लड़कियां सप्लाई की जाती थीं। इस काम के लिए पेयमेंट का भुगतान आॅनलाइन या फिर पेटीएम के माध्यम से किया जाता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *