मंडला कलेक्टर को कांग्रेस ने क्यों दी नसीहत

भोपाल। 03 जनवरी 2018 बीडीसी न्यूज
मंडला कलेक्टर सुफिया फारूकी द्वारा एकात्म यात्रा के दौरान पादुका पूजन को लेकर सियासत गरमा गई है। कांग्रेस को कलेक्टर का पादुका पूजन करना रास आ रहा है। पार्टी के सांसद विवेक तन्खा ने ट्वीट कर कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक स्तर के अफसरों को यात्रा से दूर रहने की नसीहत दी है। भाजपा ने कलेक्टर द्वारा पादुका पूजन को सामाजिक समरसता का प्रतीक बताया है।
कांग्रेस के सांसद विवेक तन्खा ने ट्वीट कर कहा है कि कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक स्तर के अफसर इस एकात्म यात्रा से यथा दूरी बनाए रखना चाहिए। यह यात्रा धार्मिक न होकर राजनीति है। तन्खा ने नसीहत दी है कि अफसरों को बेहतर कॅरियर के लिए यात्रा से दूर रहे। वहीं सरकार के प्रवक्ता डॉ. नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि कलेक्टर मंडला सूफिया फारूकी वली ने कोई गलत नहीं किया। कलेक्टर ने नजीर पेश की है, यह तो सामाजिक समरसता की प्रतीक है।
वहीं सरकार के लोक निर्माण मंत्री रामपाल ने भी कांग्रेस और सांसद विवेक तन्खा को आड़े हाथों लिया और कहा कि कलेक्टर की पादुका पूजन का विरोध करना उनकी मानसिकता का पता चलता है। रामपाल ने विवेक तन्खा को यात्रा में शामिल होने का न्यौता भी दिया।
गौरतलब है कि राज्य सरकार एकात्म यात्रा के जरिए ओंकारेश्वर में आदि गुरू शंकराचार्य की अष्ट धातु प्रतिमा निर्माण के लिए धातु संग्रहण का कार्य कर रही है। यह यात्रा विभिन्न जिलों से होकर 22 जनवरी को ओंकारेश्वर मेें समाप्त होगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *